Ghar ki Khushboo : (घर की खुशबू - तौसीफ तबस्सुम की ग़ज़लें और नज्में)

Complimentary Offer

  • Pay via readwhere wallet and get upto 40% extra credits on wallet recharge.

Ghar ki Khushboo : (घर की खुशबू - तौसीफ तबस्सुम की ग़ज़लें और नज्में)

  • Fri Feb 07, 2020
  • Price : 150.00
  • Diamond Books
  • Language - Hindi
This is an e-magazine. Download App & Read offline on any device.

आधुनिक उर्दू शायरी को नया रंग-रूप प्रदान करने में जिन पाकिस्तानी शायरों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है, उनमें तौसीफ़ तबस्सुम का नाम विशेष रूप से उल्लेखनीय है। आम बोल-चाल की शब्दावली से अपनी अनुभूतियों को अभिव्यक्ति देने और उसे साधारण जन की आवाज़ बना देने वाले तौसीफ़ तबस्सुम मुख्यतः ग़ज़ल के शायर हैं।